Subscribe to Buxar upto Date News:
  • Breaking News

    संस्था ने चलाया सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान

    बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :-नावानगर थाना क्षेत्र  के परमानपुर एन एच 30 हाईवे पर जनहित में सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया गया। आखिर क्यों जाती है बेगुनाहों के जाने, क्यों लड़ती है रोड पर गाड़ी , कहीं ना कहीं हमारे आपके बीच जागरूकता के अभाव है। इसको लेकर  बरसों से जनहित में काम करने वाली नावानगर थाने क्षेत्र के सेवई टोला स्थित क्रेशन ज्योति सेवा संस्थान अनाथालय के सौजन्य से अनमोल जीवन को सुरक्षित रखने के लिए जागरूकता अभियान चलाया गया ।जिसका नेतृत्व संस्था सचिव रामराज सिंह ने किया। आए दिन हो रहे सड़क दुर्घटना को रोकने के लिए आम से लेकर खास तक को सचेत किया गया। क्यों होती है रोड एक्सीडेंट।  सुरक्षा की राह में क्या है बधाए।
    आम लोगों की ओर से सड़क सुरक्षा नियमों की अनदेखी, ड्राइवरों की लापरवाही, सड़कों की बदहाल स्थिति, शराब पीकर वाहन चलाने, रात भर नाच देखने वाले ड्राइवर सुबह होते ही अंधे नींद मे गाड़ी चलाना , नाबालिक हाथों में स्टेरिंग, कान में इयरफोन लगाकर जानेमन छम्मक छल्लो से बात करना। डिपर लाइट से सामने वाले की आंख पर छोपनी डालना। इसकेे साथ ही ट्रैफिक नियमों पर कड़ाई से अमल नहीं होने जैसे मुद्दे ही बढ़ते सड़क हादसों के लिए जिम्मेदार है। उक्त बातें सड़क सुरक्षा अभियान चला रहे संस्था सचिव रामराज सिंह ने रोड पर उतरे वाहन चालको से कहीं। आगे जनहित मुद्दों पर विस्तार रूप से प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि नाबालिक बच्चों के हाथों में स्टेरिंग ट्रैफिक नियमों को तोड़ आगे निकलने की होड़, बिना हेलमेट , बिना बांधे सीट  बेल्ट का सफर, ही दुर्घटना के मुख्य कारण है इतना ही नहीं अगर सच्चाई पर ग़ौर करें तो जो ड्राइवर  गाड़ी चला रहा है उसकी गवई माहौल किस तरह की है,आप भी जानते हैं की जो पढ़ाई के डर से भागता है वह जाकर खलासी ड्राइवर बनता है।खलासी भी चाहता है कि दूसरे के गाड़ी पर हाथ साफ कर ड्राइवर बन जाए ।इसके चक्कर में तिरंगा पान पराग गुटखा खाकर पकड़ता है स्टेरिंग । वह भी कान में ईयर फोन लगाकर ।बातें करता है अपनी नईकी  माई से ।जानेमन गाड़ी में जगह तो है नहीं लेकिन दिल में जरूर रखते हैं तुम्हारे लिए जगह,यानी मशगूल है नानी से बात करने में।डिपर लाइट से सामने वाले का आंखों पर तो चोपनी डाल ही देता है। पीछे से हर्न देने पर भी नहीं सुन पाता। जरा सोचिए आप  रोड पर कितने सुरक्षित हैं ।अगर आंकड़े और सच्चाई पर गौर करें तो लगन के दिन में एकसारहा  रोड एक्सीडेंट होते रहता है जिसका मुंख्य वजह है। गैर जिम्मेदार ड्राइवर रात भर नाच देखता है,सुबह आधी नींद में ही गाड़ी चलाना कितना सुरक्षित है। और तो और इस सीजन में उपलब्ध होने वाला ताड़ी और गाड़ी का रिश्ता खाड़ी के ओर लेकर चला ही जाता है।अगर हम ऐसे लोगों को सचेत नहीं करेंगे तो खुद को भी सुरक्षित नहीं रह पाएंगे।एकसराहा यही ही देखा गया है कि धाका आप नहीं मारते बल्कि सामने वाला मार देता है।इस तरह के तमाम परेशानियों से निजात पाने के लिए सुरक्षित जर्निंग के कल्पना तब हम करेंगे जब आप की तरह सभी लोग जागरूक होंगे।
     बहरहाल सरकार की ओर से भी कठोर कदम उठाने चाहिए
     फिलहाल शिथिल नियमों और बिचौलियों के सहारे ठीक से ड्राइविंग नहीं कर पाने वालों को भी आसानी से लाइसेंस मिल जाता है.रोड पर सफर कर रहे बेगुनाहों के साथ सड़क हादसे में शामिल ड्राइवरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई जरूरी है. एक से ज्यादा बार हादसे की स्थिति में लाइसेंस निलंबित या निरस्त करने का प्रावधान किया जाना चाहिए. इससे रोड पर सफर करने वाले हर चालक एक दूसरे को हिफाजत करते हुए चले। क्योंकि सभी के पत्नी और नन्हे मुन्ने बच्चे घर पर पापा को आने की राह निहार रहे होंगे ।
    इस जनहित अभियान में शामिल संस्था के वरीय सदस्य ज्योति कुमारी अध्यक्ष मनोज कुमार सिंह, एंटी करप्शन एंड क्राइम कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन एंड इंडिया बक्सर  जिला उपाध्यक्ष बृज कुमार सिंह,  इन्वेस्टिगेशन चमन सिंह , प्रखंड अध्यक्ष राजू सिंह ,सेक्रेटरी धर्मेंद्र सिंह , लालबाबू सिंह, अजय कुमार सिंह,सामाजिक कार्यकर्ता पेट्रोल पंप मालिक राकेश सिंह,शिक्षाविद रविकांत सिंह सहित अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।
    https://drive.google.com/file/d/1R8rvtPijg0C4duKxbK6hUoCoqtU3ZuQ5/view