Subscribe to Buxar upto Date News:
  • Breaking News

    भागलपुर में नहीं खुल रहा है एम्स,झूठ व भ्रांति फैला रहा है विपक्ष: अश्विनी चौबे

    बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :-विपक्षियों द्वारा बक्सर से एम्स को हटाकर भागलपुर ले जाने की बात झूठी है। इसमें कोई दम नहीं है। वे अपनी हार को सुनिश्चित देख इस तरह का झूठ और अफवाह फैला रहे हैं। जनता को गुमराह कर रहे हैं। नए एम्स के लिए प्रदेश सरकार को जमीन उपलब्ध कराने के साथ और अन्य मापदंडों को भी पूरा करना होता है। प्रदेश सरकार ने दरभंगा में नए एम्स का प्रस्ताव दिया था। जहां पर एम्स खुलना होता है। वहां पर  मेडिकल कॉलेज के साथ 200 से 250 एकड़ जमीन होना चाहिए। केंद्र व प्रदेश की बक्सर में एम्स खोलने की कोई योजना ही नहीं थी। ऐसा इसलिए की बक्सर नए एम्स खोलने के मापदंडों पर ही खरा नहीं उतरता है। मेरे संसदीय क्षेत्र की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सेवा एम्स जैसा मिले। इसे ध्यान में रखकर मैंने देश में पहली बार बक्सर सदर अस्पताल को टेलीमेडिसिन के माध्यम से एम्स पटना से जोड़ा। डुमरांव में मेडिकल कॉलेज को स्वीकृति दिलाई। सभी विधानसभा क्षेत्र में एक-एक एंबुलेंस देने का काम किया गया है। सामाजिक संगठनों की मदद से आपका चिकित्सक आपके द्वार योजना का भी शुभारंभ किया।  विपक्षी दलों को एम्स को लेकर जनता को बरगलाने का काम बंद करना चाहिए।
    उक्त बातें केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण राज्यमंत्री सह एनडीए भाजपा प्रत्याशी श्री अश्विनी कुमार चौबे ने शनिवार को राजपुर विधानसभा क्षेत्र भ्रमण के दौरान जनता द्वारा भागलपुर एम्स ले जाने के संबंध में पूछे जाने के उपरांत अपनी बात रख रहे थे। उन्होंने कहा कि चुनाव का समय है। चुनाव के समय में अफवाह से दूर रहना चाहिए।

    *मेडिकल कॉलेज व एम्स टेलीमेडिसन का तोहफा*

    केंद्रीय राज्यमंत्री श्री चौबे ने कहा कि बक्सर के हक से हकमारी मैंने कभी नहीं की। मैंने पांच साल में जो काम किए हैं। वह जनता के सामने हैं। मैंने अथक प्रयास कर डुमरांव में मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति प्रदान कराई। सदर अस्पताल को एम्स पटना से टेलीमेडिसन के जरिए जोड़ा गया। यह देश में पहली बार हुआ।
     *2014 से 19 की काम की कोई भी कर ले समीक्षा*
    मैं पांच साल से यहां से सांसद हूं। मैंने काम किया है। कोई भी पहले के 2009-14 और 2014-19 के बीच कामकाज की समीक्षा कर ले। केंद्रीय राज्यमंत्री श्री चौबे ने कहा कि चौसा पावर प्लांट जो एक तरह से ठंडे बस्ते में था। उसे फिर से शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने शिलान्यास किया। आजादी के बाद 4 दशकों से कदमन जलाशय परियोजना जो बंद पड़ी थी। उसे भी गति देने का काम किया गया। इटाढ़ी गुमटी पर ओवरब्रिज उसका शिलान्यस हुआ। प्रदेश का पहला गोकुल धाम भी बक्सर को मिला। इसका भी शिलान्यास हो चुका है। बनारस मैमू ट्रेन चली। बक्सर रेलवे स्टेशन का आधुनिकरण हुआ। नीलेट का केंद्र खुला। पटना से बक्सर की दूरी भी 4 लेन बनते ही कम हो जाएगी। यह काम प्रगति पर है। रामायण सर्किट से शहर का जुडऩा, पासपोर्ट सेवा केंद्र की स्थापना सहित बड़ी संख्या में सडक़ों-पुल पुलियों को जीर्णोद्धार किया। केंद्रीय राज्यमंत्री श्री चौबे ने अपने जनसंपर्क अभियान के दौरान इसी तरह सम्मान के साथ विकास और राष्ट्र की मजबूती के लिए 19 मई को भाजपा को वोट देने का आह्वान किया। इससे पहले केंद्रीय राजयमंत्री श्री चौबे के राजपुर विधानसभा के विझौरा, कुकुढ़ा, चिलहर, विरना, सिकढ़ी, बन्नी, पिपराढ़, सिसराढ़, हेढुआ, ननौरा, मलुहां, भरखरा आदि गांव पहुंचने पर लोगों ने जोरदार स्वागत किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में एनडीए के कार्यकर्ता व पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।
    https://drive.google.com/file/d/1R8rvtPijg0C4duKxbK6hUoCoqtU3ZuQ5/view