Subscribe to Buxar upto Date News:
  • Breaking News

    मौलिक अधिकारों के साथ करेंगे बक्‍सर का विकास : अनिल कुमार

    बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :-लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान में अब महज कुछ ही दिन बचे हैं, ऐसे में जनतांत्रिक विकास पार्टी के उम्‍मीदवार सह राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अनिल कुमार अपना चुनाव प्रचार अभियान तेज कर दिया है। इस दौरान उन्‍हें जनता का भी भरपूर समर्थन मिलता दिख रहा है। इसी क्रम में आज अनिल कुमार ने रामगढ़ विधान सभा के कई गांवों में जाकर जनता से बक्‍सर समेकित विकास के लिए वोट मांगा। अनिल कुमार ने स्‍पष्‍ट तौर पर कहा कि हमारी जन्‍मभूमि बक्‍सर है। हमने आज तक नेताओं द्वारा सिर्फ बक्‍सर की उपेक्षा ही देखी है। वरना आज यहां भी अच्‍छे अस्‍पताल, स्‍कूल, कॉलेज, सड़कें, कानून, और मजबूत किसान होते। इसलिए बाबा साहब भीमराव अंबेदकर के संविधान से मिलने वाले मौलिक अधिकारों के साथ बक्‍सर का विकास मेरी प्राथमिकता है।

    अनिल कुमार ने कहा कि  यह वक्‍त फैसला लेने का है। यह चुनाव बाबा साहेब के संविधान को बचाने का है। समय एक ऐसे जनप्रतिनिधि चुनने का है, जो आपका हो और आपके साथ रह कर आपकी समस्‍याओं को समझे। उन समस्‍याओं के निदान के लिए सड़क से संसद तक मजबूती से आवाज बुलंद करे। आपने पिछली बार जुमलों पर उम्‍मीद कर एक प्रतिनिधि तो चुन लिया, लेकिन वो तो फिरंगी था। तो उसे कैसे बक्‍सर और यहां की चिंता होती। उल्‍टे कभी भ्रष्‍टाचार से तो कभी छल से बक्‍सर को नुकसान पहुंचाने का ही काम किया। आज वक्‍त ऐसे ही लोगों को सबक सिखाने का है।

    अनिल कुमार ने रामगढ़ की जनता से रोजगार, शिक्षा, अस्‍पताल, महिला कॉलेज, एम्‍स जैसी चीजों की स्‍थापना के संकल्‍प को दोहराया और कहा कि अगर इस बार उन्‍हें बक्‍सर से लोकसभा में नेतृत्‍व का मौका मिलता है, तो वे विकास को प्राथमिकता देंगे और किसानों से लेकर नौजवानों की जिंदगी में तरक्‍की और खुशहाली लाने के लिए भरपूर कोशिश करेंगे। नहरों में पानी और समर्थन मूल्‍य में वृद्धि करने का काम करेंगे। इसलिए हम राजपुर और बक्‍सर की जनता से अपील करते हैं, ‘अब तक आपने उन लोगों को चुना, जिन्‍होंने चुनाव के बाद आपको आपके हाल पर छोर दिया, लेकिन इस बार अपने घर के बेटे को सिलाई मशीन छाप पर बटन दबा कर चुनिए।

    जनसंपर्क के मौके रवि प्रकाश, मंटू पटेल, चक्रवर्ती चौधरी, जगत नारायण सिंह, मोहन राम, संजय मंडल, डॉ रामराज भारती, सुविदार दास, आशुतोष पांडेय, राजा यादव, मोहन गुप्ता, संतोष यादव, रमेश राम, चंद्रशेखर सिंह, अरुण सिंह, वीरेंद्र सिंह, रामाधार राम के साथ सैकड़ो कार्यकर्ता मौजूद थे।
    https://drive.google.com/file/d/1R8rvtPijg0C4duKxbK6hUoCoqtU3ZuQ5/view