Subscribe to Buxar upto Date News:
  • Breaking News

    बक्‍सर के विकास के लिए करें वोट, दे इस माटी के लाल को मौका -अनिल कुमार

    बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :- जनतांत्रिक विकास पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सह बक्‍सर लोकसभा क्षेत्र के प्रत्‍याशी अनिल कुमार ने बक्‍सर लोकसभा क्षेत्र के दिनारा विधानसभा के खेरही, राजपुर विधानसभा के बड़कागांव, रामगढ़ विधानसभा के देवहलीयां और डुमरांव विधानसभा के सोनवर्षा में हेलीकॉप्‍टर से तूफानी दौरा कर जनता से सर्मथन मांगा और अपने चुनाव चिन्‍ह सिलाई मशीन छाप पर बटन दबा कर वोट करने की अपील की। इस दौरान जनतांत्रिक विकास पार्टी व अनिल कुमार को लोगों के साथ महिलाओं का भरपूर समर्थन प्राप्त हो रहा है। उन्‍होंने जनता से कहा कि आपने सबों को मौका देकर देख लिया, कोई सामंतवादी मानसिकता से बाहर नहीं निकल पाया, तो कोई भ्रष्‍टाचार में लिप्‍त रहा है। इसलिए आप एक मौका बक्‍सर की माटी के इस लाल को दें। हम मिलकर नया बक्‍सर बनायेंगे।

    दिनारा : अनिल कुमार ने दिनारा विधानसभा के खेरही में अश्वनी चौबे को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वर्तमान सांसद केंद्र में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हैं, लेकिन आज तक कोई एक ऐसा अस्‍पताल बक्‍सर में नहीं बनवा पाये, जहां यहां के लोग सही इलाज करवा सकें। हद तो तब हो गई, जब बक्‍सर के हिस्‍से की एम्‍स को भागलपुर लेकर चले गए। क्‍या ऐसे लोगों को आप वोट करेंगे, जो आपकी विकास योजनाओं को आपसे छीन कर कहीं और ले जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि अगर इस बार उन्‍हें बक्‍सर से लोकसभा में नेतृत्‍व का मौका मिलता है, तो वे विकास को प्राथमिकता देंगे और किसानों से लेकर नौजवानों की जिंदगी में तरक्‍की और खुशहाली लाने के लिए भरपूर कोशिश करेंगे। नहरों में पानी और समर्थन मूल्‍य में वृद्धि करने का काम करेंगे।

    राजपुर : राजपुर विधानसभा के बड़कागांव में अनिल कुमार ने सभा को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकार पर जम कर बरसे। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार और राज्‍य की नीतीश सरकार कमीशनखोरी की सरकार है। उन्‍होंने कहा कि आज एक काम बिना कमीशन के नहीं होता है। ये सबको पता है कि वृद्धा पेंशन, छात्रवृत्ति, विधवा पेंशन, इंदिरा आवास कोई भी सरकारी काम बिना कमीशन के नहीं होता है। इसलिए हमें इस कमीशनखोरों से आम जनों को निजात दिलाना है। उन्‍होंने कहा कि हम भ्रष्‍टाचारियों और कमीशनखोरों को चिन्हित कर कार्रवाई करेंगे। उन्‍होंने किसानों की चर्चा करते हुए कहा कि बक्‍सर के किसानों को नेताओं ने सिर्फ ठगने का काम किया है। इस वजह है किसानों को खेतों में पानी मिलना मुश्किल हो गई है। उन्‍हें उचित समर्थन मूल्‍य नहीं मिल रहा है। लेकिन आपका बेटा और आपका भाई किसानों के खेतों में पानी लाने का काम करेगा। मलई बराज बनाने का काम करेगा। उन्‍हें उचित समर्थन मूल्‍य दिलवाने का काम करेगा। यही हमारा लक्ष्‍य है। इसलिए आप बक्‍सर के विकास के लिए अपने बेटे को वोट करें। 

    रामगढ़ : रामगढ़ विधानसभा के देवहलीयां में अनिल कुमार ने कहा कि यह वक्‍त फैसला लेने का है। यह चुनाव बाबा साहेब के संविधान को बचाने का है। समय एक ऐसे जनप्रतिनिधि चुनने का है, जो आपका हो और आपके साथ रह कर आपकी समस्‍याओं को समझे। उन समस्‍याओं के निदान के लिए सड़क से संसद तक मजबूती से आवाज बुलंद करे। आपने पिछली बार जुमलों पर उम्‍मीद कर एक प्रतिनिधि तो चुन लिया, लेकिन वो तो फिरंगी था। तो उसे कैसे बक्‍सर और यहां की चिंता होती। उल्‍टे कभी भ्रष्‍टाचार से तो कभी छल से बक्‍सर को नुकसान पहुंचाने का ही काम किया। आज वक्‍त ऐसे ही लोगों को सबक सिखाने का है।

    डुमरांव : डुमरांव विधानसभा के सोनवर्षा में अनिल कुमार ने भाजपा और राजद के उम्‍मीदवारों से जनता को झांसे में न आने के लिए आगाह किया। उन्‍होंने कहा कि अश्विनी चौबे और जगदानंद सिंह जैसे लोगों ने बक्‍सर को बर्बाद करने का काम किया है। वे किस मुंह से आज वोट मांग रहे हैं। जगदानंद सिंह 15 साल सिंचाईं मंत्री रहे। पांच साल सांसद रहे। लेकिन क्‍या बक्‍सर का कोई भला हुआ। क्‍या किसानों के खेत में पानी पहुंचा। किसानों को उनका समर्थन मूल्‍य मिला। नहीं ना। उन्‍होंने कहा कि जब जनता ने मौका दिया, तब कुछ किया नहीं। अब एक बार फिर से कह रहे हैं कि एक मौका और दे दीजिए। लेकिन जनता उन्‍हें मौका क्‍यों दे, जब दिया त‍ब जनता पर सामंतवाद तरह से राज किया। जनता ने नेता बनाया और ये मालिक  बन गए।  उन्‍होंने कहा कि हमारी जन्‍मभूमि बक्‍सर है। हमने आज तक नेताओं द्वारा सिर्फ बक्‍सर की उपेक्षा ही देखी है। वरना आज यहां भी अच्‍छे अस्‍पताल, स्‍कूल, कॉलेज, सड़कें, कानून, और मजबूत किसान होते। इसलिए बाबा साहब भीमराव अंबेदकर के संविधान से मिलने वाले मौलिक अधिकारों के साथ बक्‍सर का विकास मेरी प्राथमिकता है।

    इस मौके पर रवि प्रकाश, मंटू पटेल, चक्रवर्ती चौधरी, जगत नारायण सिंह, मोहन राम, संजय मंडल, डॉ रामराज भारती, सुविदार दास, आशुतोष पांडेय, राजा यादव, मोहन गुप्ता, संतोष यादव, रमेश राम, चंद्रशेखर सिंह, अरुण सिंह, वीरेंद्र सिंह, रामाधार राम के साथ हजारों की संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।
    https://drive.google.com/file/d/1R8rvtPijg0C4duKxbK6hUoCoqtU3ZuQ5/view