Subscribe to Buxar upto Date News:
  • Breaking News

    भगवन्नाम से हम अपना लोक परलोक दोनो सुधार सकते हैं- नरहरि दास जी महाराज

    बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :-सोमवार को सेंट्रल जेल परिसर में वामनेश्वर मंदिर में आयोजित आठ दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का समापन रंगोत्सव के साथ हुआ।
     कथा व्यास आचार्य पंडित नरहरि दास जी महाराज ने रंगोत्सव का ऐसा समां बांधा कि कथा में उपस्थित भक्तजन झूमने को विवश हो गए। इस दौरान कथा व्यास ने अबीर गुलाल के रंगों से सराबोर करते हुए कथा को रंगारंग बना दिया। कहा कि इस कथा का उद्देश्य सभी लोगों का भगवान से तादात्मय स्थापित करना था। चाहे अमीर हो या गरीब या किसी भी वर्ग का हो, सभी को एकजुट होकर सनातन संस्कृति और मत, भक्ति-आस्था को मजबूत करना चाहिए। हम किसी की आराधना करें, हमें अंतिम फल भगवान के चरणों की प्राप्ति है। यह जीवन असार है और इसमें सार बस यह है कि ईश्वर की प्राप्ति हो जाए।
     पंडित नरहरि दास जी महाराज ने कहा कि सभी की अंतिम परिणति श्रीराम नाम सत्य है और यह अकाट्य है। कथा श्रोताओं को संदेश में ऐसा व्यवहार करना चाहिए कि किसी का किसी से बैर नहीं है। इस कलिकाल में कर्मकांड, पूजापाठ आदि बहुत संभव नहीं है। लेकिन, भगवान के नाम सर्व सुलभ हैं। भगवान के नाम का आश्रय लेकर हम अपना लोक परलोक दोनों सुधार सकते हैं। भक्ति का अर्थ है दूसरों की सेवा व सहायता करना। किसी के दोष अवगुण की चर्चा न करना और न कराना। भगवान की कक्षा ही एक ऐसा साधन है जो सभी को निवैर कर देती है।
    https://drive.google.com/file/d/1R8rvtPijg0C4duKxbK6hUoCoqtU3ZuQ5/view