Subscribe to Buxar upto Date News:
  • Breaking News

    घोड़ा रेस में सुल्तान ने मारी बाजी,दिया गया चेतक का उपाधि, लालू के बेटे को भाया घोड़ा,खरीद ले पहुंचे पटना

    बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :-ब्रह्मपुर के उच्च विद्यालय मैदान में शनिवार को घोड़ा रेस का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। मौका था ब्रह्मपुर में लगने वाला प्रसिद्ध फाल्गुनी पशु मेला का जो कि आठ दिनों से लगा हुआ था और आज घोड़ा दौड़ प्रतियोगिता के साथ इस फाल्गुनी पशु मेला का समापन हो गया। इस प्रतियोगिता में करीब तीन दर्जन घोडो ने हिस्सा लिया था।

    प्रतियोगिता का उद्धघाटन पूर्व जिला परिषद सदस्य मार्कण्डेय सिंह, क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष रणजीत बहादुर सिंह,मुखिया परमार सिंह,पूर्व मुखिया कमल प्रताप सिंह तथा जदयू नेता अजय उपाध्याय ने सयुक्त रूप से फीता काट एवं दीप जला कर किया। प्रतियोगिता के अंतिम चरण में चार चक्कर लगाने थे। इस दरम्यान सभी घोड़ो को पछाड़ते हुए लखनऊ के मलियाबाग निवासी गौस खान का घोड़ा सुल्तान ने बाजी मार कर प्रथम पुरस्कार का विजेता बना। वहीँ, भोजपुर जिला के बैलौटी गाँव निवासी पंकज त्रिपाठी के बाहुबली नामक घोड़ा को दूसरा स्थान मिला जबकि, पटना निवासी रोमा बाबू के घोड़ा बादल को तीसरा पुरस्कार प्राप्त हुआ। इस दौरान प्रतियोगिता के आयोजको द्वारा घोड़ा मालिको को शील्ड देकर पुरस्कृत किया गया. वहीँ,शील्ड जितने वाले घोड़े को महाराणा प्रताप का प्रतापी घोड़ा चेतक की नाम से नवाजा गया।
    वही, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने फाल्गुनी (फागुनी) मेले का रंग चढ़ा और मेले में उन्होंने मारवाह के रोकड़ नस्ल का घोड़ा खरीदा।
    दरअसल तेज प्रताप यादव शनिवार की शाम अचानक ब्रह्मपुर के प्रसिद्ध फाल्गुनी मेला में घोड़ा खरीदने के लिए पहुंच गए। उनके आते ही समर्थकों की भारी भीड़ जुट गई।
    उन्हें एक राजस्थान के मारवाड़ के रोकड़ नस्ल का घोड़ा उन्हें पसंद आ गया। इसके बाद उस घोड़े पर चढ़कर कई बार मैदान में दौड़ लगाई और घोड़े की चाल को पसंद कर उजले रंग के मारवाड़ घोड़े को खरीद लिया।

    युवा नेता कृष्ण चौधरी,वैभव यादव,मोहीत यादव,दिपक यादव,मनिष यादव,गोलू चौधरी,राजू वर्मा,जेन्दू यादव,
    ने बताया कि घोड़ा  80 हजार में तय हुआ और फिर वह अपने साथ पटना चले गए।
    https://drive.google.com/file/d/1R8rvtPijg0C4duKxbK6hUoCoqtU3ZuQ5/view