Subscribe to Buxar upto Date News:
  • Breaking News

    कल प्रधानमंत्री वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए करेंगे चौसा पावर प्लांट का शिलान्यास

    बक्सर अप टू डेट न्यूज़ :-स्थानीय सांसद सह केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री श्री अश्विनी चौबे ने कहा कि एनडीए सरकार जो कहती है वह धरातल पर भी उसे उतारती है।  सभी बक्सर वासियों की तरह मेरा भी सपना था कि चौसा पावर प्लांट प्रोजेक्ट तेजी से आगे बढ़े। सांसद बनने के पहले दिन से इसे लेकर मैंने गंभीरता से प्रयास शुरू कर दिया था। और मुझे आप सभी को बताते हुए गर्व की अनुभूति हो रही है कि आदरणीय प्रधानमंत्री जी शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस महत्वपूर्ण और प्रोजेक्ट का शिलान्यास करने जा रहे हैं। इससे शाहाबाद ही नहीं संपूर्ण पूर्वांचल की तस्वीर बदल जाएगी।
    केंद्रीय राज्य मंत्री श्री चौबे रघुनाथपुर में रेफरल अस्पताल के उद्घाटन के अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार हर क्षेत्र में सभी को साथ लेकर विकास के पथ पर आगे बढ़ रही है। आगे भी विकास की गति इसी तरह जारी रहेगी। भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में मजबूत सरकार है जो सबका साथ सबका विकास के लिए कृत संकल्पित है। उन्होंने आयुष्मान भारत का जिक्र किया। एक ऐसी योजना है जिससे देश स्वस्थ हो इस ओर बढ़ रहा है।  बक्सर स्वास्थ्य महाकुंभ का आयोजन कर जन-जन में स्वास्थ्य के प्रति अलख जगाने का प्रयास किया गया था। यह निरंतर आगे बढ़ती रहेगी। केंद्र सरकार द्वारा इलनेस सेंटर वेलनेस सेंटर में तब्दील कर रही है। यह स्वास्थ्य क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण कदम है।
    *यत्र नार्यस्तु पूज्यंते तत्र रमंते देवता*
     राज मंत्री श्री चौबे  ने कहा कि हमारी भारतीय संस्कृति में नारी का स्थान प्रथम है। डुमराव में पार्टी की महिला मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यहां हर दिन नारी का होता है। शास्त्रों में पुराणों में नारी शक्ति, विद्या,धन की देवी जानी जाती है। आज मुझे नारी शक्ति को सम्मानित करते हुए गौरव की अनुभूति हो रही है। आज किसी भी क्षेत्र में भारत की नारी पीछे नहीं है। यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। *गोकुलग्राम का भूमि पूजन*
    केंद्रीय राज्य मंत्री श्री चौबे ने बक्सर डुमराव में राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत "गोकुल ग्राम " की स्थापना के लिए भूमि पूजन किया। उन्होंने केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में उपस्थित लोगों को अवगत कराया।
    इस मिशन के तहत सरकार देसी नस्ल के दुधारू पशुओं को बढ़ावा देकर दूध के उत्पादन को बढ़ाना चाहती है।  इसके अलावा पशुओं में होने वाली बीमारियों पर लगाम लगाना भी राष्ट्रीय गोकुल मिशन के मुख्य उद्देश्यों में शामिल है
    *यह है उद्देश्य राष्ट्रीय गोकुल मिशन के उद्देश्य*
    दुधारू पशुओं के स्वदेशी नस्लों का विकास और संरक्षण।
    स्वदेशी पशु के लिए नस्ल सुधार कार्यक्रम है। इससे पशुओं में अनुवांशिक सुधार और पशुओं की संख्या में वृद्धि संभव होगी.
    दूध उत्पादन और उत्पादकता को बढ़ाने की कोशिश है।
    https://drive.google.com/file/d/1R8rvtPijg0C4duKxbK6hUoCoqtU3ZuQ5/view